There are no items in your cart

Enjoy Free Shipping on orders above Rs.300.

Main Krishna Hoon - Vol 2 - Mathura Mein Mere Sangharshsheel Jeevan Ki Daastan

₹ 349

(Inclusive of all taxes)
  • Free shipping on all products.

  • Usually ships in 1 day

  • Free Gift Wrapping on request

Description

‘मैं कृष्ण हूँ - मथुरा में मेरे संघर्षशील जीवन की दास्तां’ बेस्टसेलर ‘मैं मन हूँ’ के लेखक दीप त्र... Read More

Product Description

‘मैं कृष्ण हूँ - मथुरा में मेरे संघर्षशील जीवन की दास्तां’ बेस्टसेलर ‘मैं मन हूँ’ के लेखक दीप त्रिवेदी द्वारा लिखित ‘मैं कृष्ण हूँ’ किताब का दूसरा भाग है। इसमें कृष्ण द्वारा मथुरा में किए संघर्षों का रोचक वर्णन है तथा इसमें कृष्ण के जीवन से जुड़े कुछ अहम सवालों के जवाब मिलते हैं जैसे: कृष्ण ने कंस को क्यों मारा? कृष्ण को मथुरा से क्यों भगाया गया? कृष्ण और रुक्मिणी का प्यार क्या था? कृष्ण और सत्यभामा का संबंध क्या था?

‘मैं कृष्ण हूँ’ के पहले भाग को पाठकों ने सराहा तथा इसे क्रॉस्वर्ड बुक अवार्ड्स 2018 के नॉन-फिक्शन पोपुलर केटेगरी के लिए नामांकित भी किया गया है।

‘मैं कृष्ण हूँ’, कृष्ण के जीवन को सिलसिलेवार रूप से दर्शाती है और उनके हर कृत्य के पीछे के सायकोलॉजिकल पहलुओं को समझाती है। यह किताब कृष्ण की आत्मकथा है जिसमें बताया गया है कि कैसे कृष्ण ने अपने मन की शक्तियों के सहारे सभी चुनौतियों को मात दी और हर विपरीत परिस्थिति में विजय हासिल की। पहले व्यक्ति के दृष्टिकोण से लिखी गई इस किताब की सबसे खास बात यह है कि इसमें कृष्ण जैसे अद्भुत और विलक्षण प्रतिभा वाले व्यक्ति के जीवन की सायकोलॉजिकल गहराइयों का पता चलता है।

चूंकि किताब के लेखक स्पीरिच्युअल सायकोडाइनैमिक्स के पायनियर हैं, इसमें आवश्यक स्थानों पर कृष्ण की सम्पूर्ण सायकोलॉजी को दर्शाया गया है जिससे पाठकों को यह स्पष्ट होता है कि कृष्ण ने क्या किया तथा क्यों। इस किताब को लिखने में 15 से भी अधिक पौराणिक ग्रंथों का अध्ययन किया गया है जैसे: महाभारत, शतपथ ब्राह्मण, ऐतरेय आरण्यक, निरुक्त, अष्टाध्यायी, गर्ग संहिता, जातक कथा, अर्थशास्त्र, इंडिका, हरिवंश पुराण, विष्णु पुराण, महाभाष्य, पद्म पुराण, मार्कंडेय पुराण और कूर्म पुराण...।

अंग्रेजी और गुजराती में भी उपलब्ध।

Product Details

Title: Main Krishna Hoon - Vol 2 - Mathura Mein Mere Sangharshsheel Jeevan Ki Daastan
Author: Deep Trivedi
Publisher: Aatman Publication
ISBN: 9789384850395
SKU: BK0416027
EAN: 9789384850395
Language: Hindi
Binding: Paperback
Reading age : All Age Groups

About Author

Mr. Deep Trivedi is a pioneer in spiritual psychodynamics, an eminent and prolific author and also a speaker. He speaks on numerous topics related to human life such as joy, success, confidence, functions of the mind, functions of the DNA and genes, fear, ego, hypocrisy, complexes, laws of nature, etc. in a unique series titled DeepTalks. His command over the understanding of human life can be gauged by the fact that he has created a national record for delivering the Most Lectures on Human Life , as per India Book of Records. His marathon series on Bhagavad Gita has also been recognised as a new national record by India Book of Records for Most Lectures on Bhagavad Gita , which is 168 hrs, 28 mins, 50 secs in 58 days. These lectures have been delivered in front of a live audience across India. The series of these lectures is currently being telecast on EPIC channel every Sunday morning between 10 am 11 am and the repeat telecast is aired every Saturday 11 pm to 12 midnight. The DVDs and audio CDs of these lectures are already in great demand all over India and are available at all leading e-commerce sites. Deep Trivedi also has a large following on Facebook and Twitter, and his videos have garnered a large number of viewers on YouTube.

Customer Reviews

Be the first to write a review
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)

Recently viewed